EMERGENCY MEETING केजरीवाल से मिले अमित शाह- ज़रूर पढ़े

0
518
emergecy meeting amit shah delhi
emergecy meeting amit shah delhi

दिल्ली में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामलों को लेकर गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को आपात बैठक बुलाई. इस बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन, दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौजूद रहे.

दिल्ली में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की तरफ से बुलाई गई बैठक खत्म हुई. बैठक के बाद कोरोना पर नियंत्रण पाने को लेकर हुई चर्चा के बारे में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जानकारी दी. उन्होंने बताया कि केंद्र की तरफ से डीआरडीओ सेंटर पर 500 आईसीयू बेड उपलब्ध कराने के बात कही गई है. साथ ही केंद्र सरकार की तरफ से 250 और बेड दिए जाएंगे.

ADVERTISEMENT
ADVERTISEMENT

मीडिया से बातचीत में अरविंद केजरीवाल ने कहा कि डीआरडीओ सेंटर पर 750 आईसीयू बेड उपलब्ध कराए जाएंगे. केंद्र सरकार दिल्ली में आईसीयू बेडों की संख्या बढ़ाने के लक्ष्य में हमारी मदद करेगा. दिल्ली में रोजाना एक से डेढ़ लाख कोरोना टेस्ट किए जाएंगे.अमित शाह ने ट्वीट कर बैठक में हुई चर्चा और लिए गए फैसलों के बारे में बताया है. अमित शाह के ट्वीट के मुताबिक, दिल्ली में  RT-PCR टेस्ट की दोगुनी वृद्धि की जाएगी.

amit shah arvind kejriwal meeting on covid19
amit shah arvind kejriwal meeting on covid19

सीएम केजरीवाल ने कहा कि हम इस मीटिंग के लिए गृह मंत्रालय का आभार व्यक्त करते हैं. दिल्ली के लोगों के स्वास्थ्य के लिए यह बैठक काफी जरूरी थी. अक्टूबर के बाद दिल्ली में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. ऐसे में सभी को मिलकर काम करने की जरूरत है.

उन्होंने कहा कि रोजाना की टेस्टिंग क्षमता भी बढ़ाने की बात हुई है.कोरोना के लिहाज से अधिक संवेदनशील इलाकों में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय तथा ICMR की मोबाइल टेस्टिंग वैनों को तैनात किया जाएगा. उन्होंने कहा कि, मई में बनाए गये धौला कुआं स्थित DRDO के कोविड अस्पताल में 250 से 300 ICU बेड और शामिल किए जाएंगे. इसके अलावा ऑक्‍सीजन की सुविधा वाले बेडों की उपलब्धता बढ़ाने के उद्देश्‍य से छतरपुर के 10,000 बेड वाले कोविड सेंटर को और सशक्त किया जाएगा.

पिछले 24 घंटे में राजधानी दिल्ली में कोरोना के 3235 नए मामले सामने आए हैं. वहीं, 95 और मरीजों की मौत हुई है. जिसके बाद दिल्ली में कोरोना से मरने वालों की कुल संख्या 7614 हो गई है. इसके अलावा पिछले 24 घंटे में 7606 लोग ठीक हुए हैं.

अमित शाह ने ट्वीट में यह भी बताया है कि,  MCD के कुछ चिन्हित अस्‍पतालों को हल्‍के-फुल्‍के लक्षण वाले कोविड-19 रोगियों के उपचार के लिए डेडिकेटेड अस्‍पतालों के रूप में बदला जाएगा. उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते हालात की स्पष्टता जानने के लिए डेडिकेटेड बहु-विभागीय टीमें, दिल्‍ली के सभी प्राइवेट अस्‍पतालों में जाएंगी.

इसके अलावा पहले शुरू किए गए सारे कंटेनमेंट उपायों की समीक्षा करने की बात भी अमित शाह के ट्विटर हैंडल पर कही गई है. उन्होंने कहा कि मोदी सरकार ने दिल्ली में स्वास्थ्यकर्मियों की कमी को देखते हुए CAPF से अतिरिक्‍त डॉक्टर और पैरा मेडिकल स्टाफ देने का निर्णय किया है, उन्हें शीघ्र ही एयरलिफ्ट करके दिल्ली लाया जायेगा.