Vaishno Devi Temple: वैष्णो देवी मंदिर में मची भगदड़, अब तक 12 लोगों की मौत, कई गंभीर रूप से घायल

0
635

Stampede at Mata Vaishno Devi Bhawan: नए साल के मौके पर माता वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ मच गई है, जिसमें कई लोगों की मौत हो गई, जबकि बहुत से लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं. राहत और बचाव कार्य जारी है.

 अधिकारियों ने बताया कि नए साल की शुरुआत के मौके पर श्रद्धालु बड़ी संख्या में दर्शन करने पहुंचे हैं. इसी दौरान भगदड़ मच गई. वरिष्ठ अधिकारी और श्राइन बोर्ड के अधिकारी मौके पर मौजूद हैं. अधिकारियों ने कहा कि कई लोग मृत पाए गए हैं और उनके शवों को पहचान और अन्य कानूनी औपचारिकताओं के लिए अस्पताल भेजा गया है. माता वैष्णो देवी नारायण सुपरस्पेशलिटी अस्पताल सहित दूसरे अस्पतालों में घायलों को भर्ती कराया गया है. कई घायलों की हालत ‘गंभीर’ बताई गई है.

जम्मू-कश्मीर में कटरा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रखंड चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर गोपाल दत्त ने बताया, माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ मचने से 12 लोगों की मौत हुई है और घायलों को नारायणा अस्पताल में भर्ती कर दिया है. उन्होंने बताया कि मृतकों में दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और जम्मू कश्मीर के लोग शामिल हैं. मामले में अधिक जानकारी मिलने का इंतजार किया जा रहा है. साथ ही यात्रा को रोक दिया गया है. वहीं पीएमओ की तरफ से ट्वीट कर बताया गया है कि भगदड़ में जान गंवाने वाले प्रत्येक शख्स के परिवार को PMNRF की तरफ से 2 लाख रुपये और घायलों को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए कहा है, ‘माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ में लोगों की मौत से अत्यंत दुखी हूं. शोक संतप्त परिवारों के प्रति संवेदना. घायल शीघ्र स्वस्थ हों. जम्मू कश्मीर के राज्यपाल मनोज सिन्हा, मंत्री जितेंद्र सिंह और नित्यानंद राय से बात की और स्थिति का जायजा लिया.’ वहीं केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने ट्वीट करते हुए बताया है, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व्यक्तिगत रूप से माता वैष्णो देवी मंदिर में भगदड़ की घटना से उत्पन्न दुखद स्थिति की निगरानी कर रहे हैं. पीएम ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है और घायलों को हर संभव चिकित्सकीय मदद और सहायता प्रदान करने के निर्देश जारी किए हैं.’

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया, ‘कटरा के माता वैष्णो देवी भवन में मची भगदड़ में 12 लोगों की मौत हुई है. घटना सुबह 2 बजकर 45 मिनट पर हुई और प्रारंभिक रिपोर्टों के अनुसार किसी बात पर बहस हुई, जिसके परिणामस्वरूप लोगों ने एक-दूसरे को धक्का दिया और फिर भगदड़ मच गई.’

जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा के कार्यालय ने ट्वीट कर बताया, ‘भगदड़ में जान गंवाने वालों के परिजनों को 10-10 लाख रुपये और घायलों को 2 लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. घायलों के इलाज का खर्च श्राइन बोर्ड (Shrine Board) उठाएगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात की. उन्हें घटना की जानकारी दी. माननीय प्रधानमंत्री ने हर संभव मदद का आश्वासन दिया है. माता वैष्णो देवी मंदिर में मची भगदड़ से हुई जनहानि से गहरा दुख हुआ है. मृतकों के परिवारों के प्रति मेरी संवेदना और घायलों के लिए प्रार्थना.’

माता वैष्णो देवी मंदिर जम्मू से करीब 50 किलोमीटर दूर त्रिकुटा पहाड़ियों पर स्थित है. घटना के बाद जिला प्रशासन ने हेल्पलाइन नंबर (Vaishno Devi Bhawan Stampede Helpline Number) जारी किए हैं. बताया गया कि श्री माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड के हेल्पलाइन नंबर 01991-234804 या 01991-234053 पर संपर्क किया जा सकता है. साथ ही पीसीआर कटरा के हेल्पलाइन नंबर- 01991232010 या 9419145182 पीसीआर रियासी के हेल्पलाइन नंबर- 0199145076 या 9622856295 और डीसी कार्यालय रियासी कंट्रोल रूम के हेल्पलाइन नंबर- 01991245763 या 9419839557 पर संपर्क किया जा सकता है.

इस घटना में मारे गए 12 लोगों में से 8 की पहचान भी हो चुकी है. प्रशासन की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार अब तक जिन लोगों की शिनाख्त हो चुकी है उनमें धीरज कुमार आयु 26 वर्ष, पुत्र तरलोक कुमार निवासी नौशेरा राजौरी ,श्वेता सिंह आयु 35 वर्ष पत्नी विक्रांत सिंह निवासी गाजियाबाद यू.पी. , विनय कुमार उम्र 24 साल, पुत्र महेश चंदर निवासी बदरपुर, दिल्ली। ,सोनू पांडे उम्र 24 वर्ष, पुत्र नरिंदर पांडे निवासी बदरपुर, दिल्ली। ,ममता उम्र 38 वर्ष, पत्नी सुरिंदर निवासी बेरी झरजर, हरियाणा। ,धर्मवीर सिंह उम्र 35 वर्ष, निवासी सालापुर, सहारनपुर, यू.पी. ,वनीत कुमार 38 वर्ष, पुत्र विरामपाल सिंह निवासी सहारनपुर, उ.प्र.  ,डॉ अरुण प्रताप सिंह उम्र 30 वर्ष, पुत्र सत प्रकाश सिंह निवासी गोरखपुर, उ.प्र. शामिल हैं.