जालंधर : छावनी के लालकुर्ती इलाके में नाबालिग की हत्या मामले को सुलझाते हुए पुलिस कमिश्नर का बड़ा खुलासा

0
1146

कमिश्नरेट पुलिस ने 24 घंटों में 17 वर्षीय लड़के के कत्ल केस की गुत्थी सुलझाई
 
 
मृतक का नाबालिग दोस्त गिरफ़्तार, पुलिस ने जुर्म में इस्तेमाल किया क्रिकेट बैट किया बरामद

सोमवार शाम को छावनी क्षेत्र के लाल कुरती मार्केट में हुए 17 वर्षीय लड़के के कत्ल की गुत्थी को कमिश्नरेट पुलिस ने 24 घंटों में सुलझा लिया है। मंगलवार को इस केस में मृतक के नाबालिग दोस्त को उसके घर से गिरफ़्तार किया गया है।

इस बारे में जानकारी देते पुलिस कमिश्नर गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने बताया कि कैंट पुलिस स्टेशन में अशोक कुमार की शिकायत पर आईपीसी की धारा 302, 34 के अंतर्गत केस दर्ज किया गया था। अशोक कुमार ने पुलिस को बताया कि उसका पोता अरमान छावनी में स्थानीय केवी-4 में 12वीं कक्षा में पढ़ता था, जिस का पिता एनआरआई है जोकि फ्रांस में रहता है। जबकि मृतक की मां अपनी बेटी के साथ हिमाचल प्रदेश गई हुई थी।
 


पुलिस कमिश्नर ने कहा कि अशोक ने बताया कि जब वह सोमवार की शाम को अरमान को घर मिलने गया तो उसकी ख़ून से लथपथ लाश देखकर हैरान रह गया। उसके चेहरे और सिर पर गहरी चोट थी।


 
गुरप्रीत सिंह भुल्लर ने आगे बताया कि जानकारी मिलने पर डीसीपी बलकार सिंह, एडीसीपी अशवनी कुमार, एसीपी मेजर सिंह, एसीपी कंवलजीत सिंह, सीआईए के प्रमुख हरमिन्दर सिंह और अशवनी कुमार मौके पर पहुंचे और जांच शुरू की। उन्होनें बताया कि पुलिस ने इस केस में जांच के बाद एक नाबालिग को गिरफ़्तार किया, जोकि अरमान का दोस्त है।

 
पुलिस कमिशनर ने बताया कि मृतक अरमान और आरोपी दोनों पहले इकठ्ठे पढ़ते थे और मृतक की एक लड़की के साथ दोस्ती थी, वह भी नाबालिग है। उन्होनें बताया कि आरोपी भी उसी लड़की के प्रति भावनायों रखता था, जिस कारण वह मृतक से ईर्ष्या करने लगा।

उन्होनें बताया कि आरोपी ने इस बीच अरमान को मारने की साज़िश रची और योजनाबद्ध तरीके के साथ जुर्म को अंजाम दिया। आरोपी ने मृतक के सिर और चेहरे पर क्रिकेट बैट के साथ हमला किया और फिर उस का गला घोंट दिया।

उन्होनें कहा कि आरोपी को जुविनाईल कोर्ट में पेश किया जायेगा। उन्होंने 24 घंटों में कत्ल की गुत्थी सुलझाने में अहम भूमिका निभाने वाले पुलिस मुलाजिमों को उपयुक्त इनाम देने का ऐलान भी किया।