पंजाब भर में किसानों की तरफ से चक्का जाम

0
618

जालंधर में भी हाईवे बंद,देखे मौके की वीडियो लाइव

पंजाब में आज आपको सफर पर निकलना है तो दोबारा सोच लें। नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी आंदोलन के बीच भारतीय किसान यूनियन की अपील पर किसानों का चक्का जाम शुरू हो गया है। किसान राज्‍यभर में नेशनल और स्‍टेट हाईवे पर धरना दे रहे हैं। राज्‍य में करीब 70 से ज्यादा स्थानों पर किसान तीन बजे तक तीन घंटे के लिए हाईवे रोकेंगे। किसानों ने विभिन्‍न स्‍थानों पर 12 बजे जाम लगाना शुरू कर दिया।

राज्‍य के अमृतसर, मोहाली, पटियाला सहित सभी जिलों में किसानों ने सड़कों पर धरना देने शुरू कर दिया है। अधिकतर जगहों पर टोल प्‍लाजा को जाम कर दिया है। पटियाला के धरेडी जट्टा टोल प्लाजा पर किसान धरना दे रहे हैं। 12:00 बजते ही किसानों द्वारा दोनों सड़कों को जाम कर दिया गया।

तरनतारन में भी जम्मू कश्मीर- राजस्थान राष्ट्रीय मार्ग स्थित गांव रसूलपुर में किसान मजदूर संघर्ष कमेटी ओर से धरना दिया जा रहा है। किसान नेता हरप्रीत सिंह सिधवा ने बताया कि जिले भर में यह आंदोलन पूरी तरह से सफल है। नवांशहर में भी दोपहर 12 बजे से लंगड़ोया बाइपास, बछुआं टोल प्लाजा व बहराम टोल प्लाजा पर किसानों का धरना चल रहा है। इसके अलावा शहर के आंबेडकर चौक पर कुछ सिकान संगठनों की ओर से धरना लगाया गया है। किसानों के धरने के आहवाहन के बाद भी सुबह से बसें चल रही थी। 12 बजे धरने के बाद किसानों ने सभी रास्तों को जाम कर दिया। इसके बाद से रोपड़ की ओर से आने वाले बसों को बछुआं टोल प्लाजा पर ही रोक दिया गया। इससे बसों में सवार लोंगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा।

वहीं पुलिस की ओर से रूटों को बेशक डायवर्ट किया गया था। पर जिले के मुख्य प्वाइंटों पर लगे धरने के कारण इसका कोई फायदा नही हुआ। काठगढ़ के एसएचओ भरत मसीह ने कहा कि दोपहर 3 बजे किसानों का धरना हटने के बाद ही बसों को वहां से गुजारा जाएगा। वहीं नवांशहर के बस स्टैंड पर यात्री बसों का इंतजार करते नजर आए।

नवांशहर में बस स्टैंड पर इंतजार कर रहे सन्नी ने बताया कि उसने गढ़शंकर जाना था पर कोई बस नही जा रही है। दिनेश ने बताया कि उसे पता था कि आज किसानों का धरना है पर उसके कोई जरूरी काम था। वीरू,प्रेम लता ने बताया कि चंडीगढ़ जाना है पर रोडवेज कर्मी बोल रहे हैं कि किसानों के धरने के खत्म होने के बाद ही वो जा पाएंगे। रूपनगर में पुलिस लाइन के पास रोपड़ चंडीगढ़ मार्ग और नवा शहर की तरफ जाने वाले  बाईपास पर किसानों ने चक्का जाम कर रहे हैं। अमृतसर से 20 किलोमीटर दूर जंडियाला गुरु के समीप निज्जर पुरा  टोल प्लाजा पर किसान संगठनों द्वारा जाम लगाया जा रहा है।  इस दौरान टोल प्लाजा पर वाहनों की कतार लगी हुई हैं।

बठिंडा, अमृतसर, मोगा, संगरूर में भी किसान विभिन्‍न मार्गों पर धरना दे रहे हैं। किसान सड़कों पर ही सभा रहे हैं। बठिंडा के तलवंडी साबो में किसान यूनियन के सदस्य धरना लगा कर चक्का जाम कर रहे हैं। बरनाला में भी कृषि कानूनों के विरोध में सरकारी सभाओं के कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया।  अमृतसर के गोल्डन गेट के समीप केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किसान संगठनों के सदस्य जाम लगा रहे हैं। पुलिस ने चक्का जाम को देखते हुए रूट डायवर्ट कर दिया है। अमृतसर संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर मोर्चा के साथ सबधित अलग-अलग किसान संगठनों की ओर से बाद दोपहर करीब 12:00 बजे किसानों ने अलग-अलग जगह पर रोष धरना शुरू कर दिया।

कपूरथला में जालंधर रोड पर अर्बन एस्टेट, धालीवाल दोना, आरसीएफ सुल्तानपुर लोधी रोड़, जीटी रोड हमीरा व ढिलवा, भुलत्थ, तलवंडी चौधरिया पुल, सुल्तानपुर लोधी और फत्तू ढींगा के अलावा बस स्टैंड कपूरथला पर भी किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। यहां भी कई जगह रूट डायवर्ट किया गया है। गुरदासपुर के बब्बरी बाईपास, बटाला, श्री हरगोबिंदपुर, अच्चल साहिब, फतेहगढ़ चूडि़यां, पटियाला में शंभू बॉर्डर व राजपुरा हाईवे पर गांव धरेड़ी जट्टा के टोल प्लाजा पर भी किसान धरना देंगे। जालंधर में पीएपी चौक, किशनगढ़ व प्रतापपुरा में चक्का जाम किया जा रहा है।